(CTET) केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा 2021 | CTET 2021- Paper I & II, Types, Exam Syllabus, Eligibility | CTET Notification 2021 Details in Hindi

(CTET) केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा 2021 | CTET 2021- Paper I & II, Types, Exam Syllabus, Eligibility | CTET Notification 2021 Details in Hindi

    CTET क्या है? | CTET Full-Form in Hindi

    CTET का Full-Form "Central Teacher Eligibility Test" होता है, जिसे Hindi में केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा कहते है। 


    Central Teacher Eligibility Test (CTET) अर्थात "केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा" एक ऐसी परीक्षा है जिसके द्वारा शिक्षकों की योग्यता की जांच की जाती है। अगर आपका सपना शिक्षक बनने का है तो आप CTET को क्वालीफाई करने के बाद बन सकते हैं। 


    CTET का मुख्य उद्देश्य प्राइमरी तथा जूनियर स्कूलों में  क्वालिटी शिक्षकों को मोहय्या कराना है। यह परीक्षा राष्ट्रीय स्तर (National Level) पर होती है। एजुकेशन में स्नातक करने वाला कोई भी विद्यार्थी अगर इस परीक्षा को उत्तीर्ण कर लेता है तो वह कक्षा 1 से कक्षा 5 तक और कक्षा 5 से कक्षा 8 तक के बच्चो को पढ़ाने के लिए योग्य हो जाता है। इस परीक्षा को उत्तीर्ण करने के बाद आप केंद्र तथा राज्य के सरकारी स्कूलों के लिए होने वाली teachers Recruitment Exams में बैठने के लिए Eligible होजाते हैं। इसके अतिरिक्त CTET उत्तीर्ण करने के बाद, देश के किसी भी प्राइवेट तथा सीबीएसई बोर्ड के स्कूलों में पढ़ा सकते हैं। 


    यह CTET परीक्षा सीबीएसई बोर्ड के द्वारा आयोजित कराई जाती है। केंद्र दवारा टीचर्स के लिए कराई जाने वाली इस सीटेट परीक्षा को प्रत्येक राज्य मान्यता देता है। आप राज्य द्वारा आयोजित किसी भी स्टेट टेट (State TET) के स्थान पर CTET का प्रयोग करके Teachers बन सकते हैं। 



    CTET परीक्षा के प्रकार 

    CBSE के द्वारा CTET की 2 तरह की परीक्षाओं में विभाजित किया गया है जिसमे दो पेपर होते है। Paper 1 & Paper 2, यह परीक्षा मुख्यत दो चरणों में आयोजित होती है। 

    Paper 1 में उत्तीर्ण उम्मीदवार, Class 1 से लेकर Class 5 तक बच्चो को पढ़ाने के लिए मान्य होगा। Paper 2 में उत्तीर्ण उम्मीदवार, कक्षा 6 से लेकर कक्षा 8 तक पढ़ने के लिए योग्य होंगे।


    CTET 2021 के Paper 1 हेतु शैक्षिक योग्यता-

    CTET 2021 के Paper 1 की परीक्षा में बैठने के लिए 

    1) बारवी कक्षा में 45% नंबर होना अनिवार्य है। इसने स्ट्रीम की कोई जरूरत नहीं है। आप चाहे आर्ट से या कॉमर्स से या फिर साइंस से हो, लेकिन आपके 45% मार्क्स होने जरूरी है। iske D.Ed (Diploma in Elementary Education) किसी मान्यता प्राप्त इंस्टिट्यूशन (NCTE Approved) से किया हुआ। जिसके माध्यम से आप इस परीक्षा में बैठ सकते है। इसके साथ आपके डिप्लोमा इन एजुकेशन में 50% मार्क्स होना अनिवार्य है तभी आप इस परीक्षा को दे सकते हो। 


    या 


    2) बारवी कक्षा में 50% नंबर होना अनिवार्य है। इसके साथ 4 वर्ष का (B.El.Ed) Bachelor of Elementary Education के अंतिम वर्ष में या कम्प्लेटेड हो। 


    या 


    3) स्नातक में 50% नंबर होना अनिवार्य है। इसके Bed की डिग्री हो 



    CTET 2021 के पेपर 2 हेतु शैक्षिक योग्यता-

    CTET 2021 के पेपर 2 की परीक्षा में बैठने के लिए

    1. स्नातक के साथ प्रारंभिक शिक्षा में दो वर्षीय डिप्लोमा (D.Ed) के अंतिम वर्ष में  हो या उत्तीर्ण हो।

    या 

    2. न्यूनतम 50 प्रतिशत अंकों के साथ स्नातक और एक वर्षीय B.Ed पाठ्यक्रम के अंतिम वर्ष में हो या उत्तीर्ण हो।

    या 

    3. न्यूनतम 45 प्रतिशत अंकों के साथ स्नातक और एनसीटीई के नियमों और मानदंडों के अनुसार एक वर्षीय B.Ed के अंतिम वर्ष में हो या उत्तीर्ण हो।

    या 

    4. न्यूनतम 50 प्रतिशत अंकों के साथ १०+२ परीक्षा उत्तीर्ण और चार वर्षीय B.El.Ed के अंतिम वर्ष में हो या उत्तीर्ण हो। 

    या 

    5. न्यूनतम 50 प्रतिशत अंकों के साथ १०+२ परीक्षा उत्तीर्ण और चार वर्षीय BA/BSc.Ed or BA.Ed/BSc.Ed के अंतिम वर्ष में हो या उत्तीर्ण हो।

    या 

    6. न्यूनतम 50 प्रतिशत अंकों के साथ स्नातक और विशेष शिक्षा में एक वर्षीय B.Ed के अंतिम वर्ष में हो या उत्तीर्ण हो।


    नोट: आरक्षित श्रेणियों, जैसे अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति / अन्य पिछड़ा वर्ग के उम्मीदवारों के लिए, न्यूनतम एजुकेशनल क्वालिफिकेशन के लिए तय किए गए अंकों में 5% तक की छूट दी गई हैै।



    CTET 2021 Paper, Time & Marks Details


    पेपर

    समय

    अंक

    पेपर 1

    2:30

    150

    पेपर 2

    2:30

    150

     


    CTET 2021 Exam Pattern

    Paper 1

    हिंदी -           30 Marks

    अंग्रेजी -         30 Marks

    बाल विकास -   30 Marks

    पर्यावरण-   30 Marks

    गणित -    30 Marks


    अगर हम बात करे पेपर 1 की तो इसमें सभी प्रश्न 30 अंक के पूछे जायेंगे। इस परीक्षा में 30 अंक हिंदी से 30 अंक अंग्रेजी 30 अंक गणित से 30 अंक बाल विकास से 30 अंक पर्यावरण के विषय से पूछे जाते हैं।


    Paper 2

    हिंदी - 30 Marks

    अंग्रेजी - 30 Marks

    बाल विकास - 30 Marks

    गणित/समाजिक - 60 Marks


    पेपर 2 में अंग्रजी ,हिंदी,वह बाल विकास जैसे सब्जेक्ट अनिवार्य है। लेकिन गणित/सामाजिक की बात करे तो जिस विषय में आपने Gradution की है। आप वह विषय आसानी से ले सकते है।



    सीटेट के लिए आयु सीमा 

    CTET की Paper 1 और Paper 2 की परीक्षा में बैठने के लिए आयु की अधिकतम कोई सीमा नही है। लेकिन कम से कम आपकी आयु 18 वर्ष होनी चाहिए।



    CTET के फार्म कब निकते है?

    CTET के पेपर की बात करे तो यह साल में दो बार पेपर कंडक्ट करवाए जाते है। यह Central Board of Secondary Education [CBSE] द्वारा आयोजित करवाए जाते है। परीक्षा ऑनलाइन मोड में होती है।


    CTET Notification 2021 Details

    रजिस्ट्रेशन - 20 सितंबर 2021

    पंजीकरण प्रारम्भ - 20 सितंबर 2021

    अंतिम तिथि - 19 अक्तूबर 2021

    करेक्शन फार्म रिलीज - 22अक्तूबर से 28 अक्टूबर तक 

    Admit Card (एडमिट कार्ड) - दिसंबर 2021

    CTET Exam Date - 16 दिसंबर से 13 जनवरी 2022

    Answer key - जनवरी

    Result - 15 फरवरी



    CTET परीक्षा का माध्यम (CTET Exam Mode)

    CTET का पेपर ऑफलाइन न होकर ऑनलाइन करवाया जाता है। जिसको सीबीएससी कंडक्ट करवाता है।



    CTET परीक्षा शुल्क / सीटेट फार्म फीस

    इस परीक्षा में जनरल या ओबीसी केटेगरी वाले आवेदकों को पहले या दुसरे पेपर के लिए 700 रूपये एवं दोनों पेपर्स के लिए 1200 रूपये आवेदन शुल्क के रूप में भुगतान करना होगा.

    यदि आवेदक एससी / एसटी या अन्य सक्षम व्यक्ति हो तो उन्हें पहले या दुसरे पेपर के लिए 350 रूपये एवं दोनों पेपर्स के लिए 600 रूपये आवेदन शुल्क का भुगतान करना होग।


    कैटेगरी

    पेपर 1

    पेपर 2

    जर्नल/ओबीसी

    700

    1200

    एससी/एसटी

    350

    600

     


    CTET Exam Structure:

    CTET परीक्षा में सभी प्रश्न बहुविकल्पीय (MCQ) होते हैं। प्रत्येक प्रश्न 1 अंक का होता है।प्रश्न की कुल संख्या 150 होती है।( इसमें नकारात्मक अंकन नहीं होता है।No negative marking) “जो उम्मीदवार कक्षा 1 से 5 तक और कक्षा 6 से 8 तक दोनों (Both Primary State and Elementary Stage) में शिक्षक बनने के लिए आवेदन करना चाहते हैं वह अपनी योग्यता के अनुसार दोनों पेपर (Paper-I & Paper-II) में सम्मिलित हो सकते हैं।



    CTET  Paper 1 Syllabus

    सीटेट  पेपर 1 के पाठ्यक्रम में 5 भाग हैं, 

    1. बाल विकास एवं शिक्षाशास्त्र, 
    2. भाषा I, 
    3. भाषा II, 
    4. गणित,
    5. पर्यावरण अध्ययन।


    1. बाल विकास & शिक्षा शास्त्र

    बाल विकास

    सीखने और मूल्यांकन के बीच का अंतर

    धर्म की विविधता के आधार पर अंतर को समझना

    जाति के आधार पर अंतर को समझना।

    भाषा के आधार पर अंतर को समझना।

    भाषा और विचार

    क्लासरूम में लर्निंग सीखना।

    आनुवंशिकता और पर्यावरण का प्रभाव

    बच्चों के विकास के सिद्धांत।

    शिक्षक, माता-पिता, साथियों बच्चे के विचार।

    बच्चो को नई चीज सिखाने पर ध्यान देना।

    इंटेलिजेंस निर्माण के महत्वपूर्ण योगदान।


    शिक्षा शास्त्र (Learning and Pedagogy)

    बच्चों की गलतियों को समझना ‘सीखने की प्रक्रिया में महत्वपूर्ण कदम ।

    प्रेरणा और सीखना।

    बच्चे कैसे सोचते हैं।

    बच्चे कैसे सीखते है।

    वह सफलता पाने के लिए किन परिस्थितियों से गुजरते हैं।


    2. भाषा I

    लैंग्वेज कॉम्प्रीहेंशन

    अनसीन पैसेज पढ़ना। उसके नीचे दिए गए कुछ क्वेश्चन का उतर देना। जो क्वेश्चन होते है वो पैसेज में से करने होते है। यह आपकी सोचने की क्षमता को दर्शाता है कि आप किसी चीज को देख कर उसके बारे में कितना सही विचार कर सकते हो।


    भाषा विकास [Pedagogy of Language Development]

    सुनने और बोलने की भूमिका बहुत मतवपूर्ण है।

    भाषा की समझ बोलना वह पढ़ना।

    सुनने और बोलने की भूमिका।

    कक्षा में  भाषा की चुनौतियां।

    भाषा की समझ बोलना, सुनना, पढ़ना और लिखना।

    विचारों के आदान प्रदान के लिए एक भाषा सीखने में व्याकरण की भूमिका।


    3. भाषा II 

    कॉम्प्रीहेंशन

    अनसीन पैसेज पढ़ना। उसके नीचे दिए गए कुछ क्वेश्चन का उतर देना। जो क्वेश्चन होते है वो पैसेज में से करने होते है। यह आपकी सोचने की क्षमता को दर्शाता है। की आप किसी चीज को देख कर उसके बारे में कितना सही विचार कर सकते हो।


    4. गणित

    ज्यामिति, आकार और स्थानिक समझ, नंबर, जोड़ और घटाव,गुणन ,विभाजन, माप,वजन,समय,वॉल्यूम,डेटा संधारण,पैटर्न्स,पैसेेेे।


    5. पर्यावरण अध्ययन

    पर्यावरण अध्ययन और पर्यावरण शिक्षा।

    विज्ञान और सामाजिक विज्ञान के  संबंध।

    परिवार और दोस्त: रिश्ते, काम और खेल, जानवर, पौधे,भोजन, आश्रय,पानी,यात्रा



    CTET Paper 2 Syllabus

    1. विज्ञान

    इलेक्ट्रिक करंट और सर्किट ,मैग्नेट ,प्राकृतिक घटना ,प्राकृतिक संसाधन, कार्य ,ऊर्जा,फोर्स, मैगनेटिक, मोमेंटम,मूविंग थिंग्स, पीपल, एंड आइडियाज़ ,प्राकृतिक विज्ञान,विज्ञान को समझना और सराहना,प्राकृतिक संसाधन।


    2. गणित

    बीजगणित,अनुपात और समानुपात,नकारात्मक संख्या और पूर्णांक,बुनियादी ज्यामितीय विचार (2-डी,प्राथमिक आकार (2 डी और 3 डी) को समझना, समरूपता (प्रतिबिंब), क्षेत्रमिति, डेटा संधारण।


    3. बाल विकास और शिक्षाशास्त्र

    सीखने की कठिनाइयों वाले बच्चों की आवश्यकता।

    बच्चे कैसे सोचते हैं और सीखते हैं।

    शिक्षण और सीखने की बुनियादी प्रक्रियाएं।

    बच्चों की गलतियों को समझना ।

    बच्चों के विकास के सिद्धांत।

    विकास की अवधारणा।

    एक सामाजिक निर्माण के रूप में लिंग की भूमिकाएं। क्लासरूम में लर्निंग करना।


    4. भाषा I

    अनसीन पैसेज पढ़ना। उसके नीचे दिए गए कुछ क्वेश्चन का उतर देना। जो क्वेश्चन होते है वो पैसेज में से करने होते है। यह आपकी सोचने की क्षमता को दर्शाता है। की आप किसी चीज को देख कर उसके बारे में कितना सही विचार कर सकते हो।

    भाषा शिक्षण के सिद्धांत।

    सीखना और अधिग्रहण।

    भाषा की समझ, सुनना, पढ़ना और लिखना।

    सुनने और बोलने की भूमिका।

    भाषा कौशल।

    लिखित रूप में विचारों के आदान प्रदान के लिए एक भाषा सीखने में व्याकरण की भूमिका।


    5. भाषा II

    अनसीन पैसेज पढ़ना। उसके नीचे दिए गए कुछ क्वेश्चन का उतर देना। जो क्वेश्चन होते है वो पैसेज में से करने होते है। यह आपकी सोचने की क्षमता को दर्शाता है। की आप किसी चीज को देख कर उसके बारे में कितना सही विचार कर सकते हो।


    भाषा शिक्षण के सिद्धांत।

    सीखना और अधिग्रहण।

    भाषा की समझ, सुनना, पढ़ना और लिखना।

    सुनने और बोलने की भूमिका।

    भाषा कौशल।

    लिखित रूप में विचारों के आदान प्रदान के लिए एक भाषा सीखने में व्याकरण की भूमिका।



    सीटीईटी प्रमाण पत्र की वैधता

    नियुक्ति के लिए सीटीईटी योग्यता प्रमाण पत्र की वैधता अवधि सभी श्रेणियों के लिए अपने परिणाम की घोषणा की तारीख से सात वर्ष होगी, लेकिन 2021 से यह अवधि में कुछ चेंजमेंट किया और यह जीवन काल के लिए कर दी।



    CTET की कटऑफ कितनी होती है?

    अगर हम बात करे कटऑफ की तो जर्नल Category में 60% जरुवत होती है। पेपर पास करने ले लिए ।


    लेकिन हम बात कर ओबीसी/एससी/एसटी/ईडब्ल्यूएस इनमे 57% में ही सीटेट क्लियर हो जाता है।


    कैटेगरी      मार्क्स 


    जर्नल         90


    ओबीसी      85


    एससी         85


    एसटी         85



    CTET FAQs

    CTET से रिलेटेड आपके कुछ प्रश्नों के उत्तर  


    Q 1. कितनी बार CTET का पेपर दे सकते है?

    CTET प्रमाणपत्र प्राप्त करने के लिए व्यक्ति द्वारा किए जा रहे प्रयासों की संख्या पर कोई प्रतिबंध नहीं है। 


    Q 2. CTET कितनी साल के लिए Valid है?

    पहले ctet की अवधि 7 वर्ष की होती थी। लेकिन अब जीवन काल के लिए हो गया।


    Q 3. अपने नंबर बढ़ान के लिए CTET का पेपर फिर से दे सकते है ?

    सीटीईटी उत्तीर्ण करने वाला व्यक्ति भी अपना स्कोर सुधारने के लिए फिर से उपस्थित हो सकता है।

    Please Share . . .

    Related Links -
    पढ़ें: टॉपर्स नोट्स / स्टडी मटेरियल-

    1 comment: