छुट्टी के लिए छात्र ने लिखा ऐसा मजेदार प्रार्थना-पत्र, पढ़कर होंगे लोटपोट

छुट्टी के लिए छात्र ने लिखा ऐसा मजेदार प्रार्थना-पत्र, पढ़कर होंगे लोटपोट

    देसी अंदाज में बुंदेलखंडी छात्र ने छुट्टी के लिए लिखा ऐसा मजेदार प्रार्थना-पत्र, पढ़कर होंगे लोटपोट, नहीं रुकेगी आपकी हंसी, सोशल मीडिया पर पोस्ट पढ़ने के बाद लोगों ने बहुत सारी प्रतिक्रियाएं दी। 



    हर छात्र के जीवन में स्कूल दिनों में कभी न कभी किसी कारण-वश छुट्टी के लिए प्रार्थना-पत्र लिखने का अवसर जरूर मिलता है, Leave Application या किसी भी प्रकार के एप्लीकेशन लिखने का एक तरीका होता है। इन सब की अनदेखी करते हुए जब एक छात्र को बुखार चढ़ा, तो उसने ऐसा अप्लीकेशन लिख डाला कि पढ़ने वालों की हंसी नहीं रुक पा रही है। 

    इस प्रार्थना पत्र को आईएएस अधिकारी अर्पित वर्मा द्वारा ट्विटर पर शेयर किया गया। यह छात्र बुंदेलखंड का मालूम पड़ता है और उसके देसी बुंदेलखंडी भाषा ने लोगों को हंसने पर मजबूर कर देता है। 

     

    देसी अंदाज में छात्र ने मांगी छुट्टी

    आईएएस अधिकारी अर्पित वर्मा द्वारा शेयर किए गए पोस्ट में कलुआ नाम के छात्र द्वारा लिखित छुट्टी का आवेदन दिखाया गया है. बुंदेलखंडी तरीके से छात्र अपनी स्थिति का वर्णन करता है और स्कूल से छुट्टी मांगता है।  


    एप्लिकेशन की शुरुआत में कलुआ ने लिखा, 'तो मास्साब ऐसो है कि दो दिना से चड़ रओ है जो बुखार उपर से जा नाक बह रई सो अलग।  जई के मारे हम सकूल नई आ पाहे सो तमाए पाऊ पर के निवेदन आए कि दो-चार दिना कि छुट्टी दे देते तो बड़ो अच्छो रहतो। ' लेटर का अंत मजेदार तरीके से होता है जब छात्र लिखता है, 'भले ही मैं स्कूल आऊं या न आऊं, कौन सा स्कूल बंद हो जाएगा। 

    आपका कलुआ'



    पोस्ट पढ़ने के बाद लोगों ने बहुत सारी प्रतिक्रियाएं दी। मजेदार लेटर को पढ़ कर पर यूजर अपनी हंसी नहीं रोक सके।




    Please Share . . .

    Related Links -
    पढ़ें: टॉपर्स नोट्स / स्टडी मटेरियल-

    0 Comments:

    Post a Comment

    Around The World / जरा हटके / अजब गजब