रीजनिंग-इनपुट (Input)

रीजनिंग-इनपुट (Input)



प्रतियोगी परीक्षाओं में इस तरह के प्रश्नों का पूछे जाने का मूल उद्देश्य कि उम्मीदवार किसी दिए गए नियम को कितनी आसानी और कितनी जल्दी के साथ समझते हैं यह जांच की जाती है

इस तरह के प्रश्नों में शब्दों अथवा संख्याओं के दिए गए इनपुट को किसी विशेष अथवा निर्दिष्ट नियमानुसार चरणबद्ध तरीके से एक क्रम में व्यवस्थित करना होता है ताकि आखिरी चरण तक पहुंचा जा सके

क्योंकि अधिकतर प्रतियोगी परीक्षाओं में समय सीमा की बाध्यता होती है आता अगर इस तरीके के प्रश्न एक बार में समझ में आए तो फिर उस प्रतियोगी परीक्षा में समय की समस्या उम्मीदवारों को पैदा हो जाती है क्योंकि अक्सर इस तरह के प्रश्न अगर बिना शॉर्टकट और ट्रिक्स के किए जाएं तो  हल करने में अधिक समय लग जाता है


प्रश्नों का प्रत्येक चरण किसी एक विशेष नियम का पालन करता है जो भी प्रश्न में दिया होता है इनपुट आउटपुट संबंधित अधिकतर प्रश्न शब्दकोश के वर्णमाला क्रम के अनुसार व्यवस्थित किया जाता है और इसे तब तक जारी रखा जाता है जब तक कि सभी शब्द एक क्रम में व्यवस्थित हो जाएं

इनपुट और आउटपुट के प्रश्नों को कैसे हल करें
सबसे पहले दिए गए प्रश्न को अच्छी तरह पढ़ें जिससे दिया गया इनपुट और  पुनरव्यवस्था के अंतिम चरण का अवलोकन करें ताकि उम्मीदवारों को पुनरव्यवस्था के चरणो में आए परिवर्तनों की जानकारी मिल जाए
हर एक चरण में क्या परिवर्तन हुआ है यह जानने के पश्चात चरणों का ध्यान पूर्वक अवलोकन करें

अब अंतिम चरण और किसी भी मध्यवर्ती चरण के साथ संबंध स्थापित करें जिससे आपको व्यवस्था के चरण को पहचानने में काफी हद तक मदद मिल जाएगी

Share This Topic On




0 Comments:

Post a comment