सर्वनाम - परिभाषा, भेद, उदाहरण एवं प्रश्न/अभ्यास | Sarvanam in Hindi

सर्वनाम - परिभाषा, भेद, उदाहरण एवं प्रश्न/अभ्यास | Sarvanam in Hindi

    सर्वनाम, सर्वनाम किसे कहते हैं? सर्वनाम की परिभाषा, सर्वनाम के भेद या सर्वनाम के प्रकार, सर्वनाम के उदाहरण एवं सर्वनाम के अभ्यास (प्रश्न/उत्तर), Sarvanam in Hindi, Sarvanam ki Paribhasha, Sarvanam ke bhed, Sarvanam Definition in Hindi, Sarvanam ke Prakar.

    सर्वनाम / Sarvanam in Hindi

    सर्वनाम किसे कहते हैं?

    उपर्युक्त प्रश्न का उत्तर समझने के लिए निम्नलिखित दिए गए पैराग्राफ की पंक्तियों पर ध्यान दें-

           डॉविक्रम साराभाई बहुमुखी प्रतिभा के धनी थे।

    डॉविक्रम साराभाई उच्च कोटि के वैज्ञानिक और कुशल प्रशासक थे। डॉविक्रम साराभाई ने प्रौद्योगिकी और शिक्षा के क्षेत्र में भी महत्वपूर्ण कार्य किया है।

           उपर्युक्त गद्यांश पढ़ते समय डॉविक्रम साराभाई का नाम बार-बार आने से भाषा में अटपटापन गया है। बार-बार नाम की आवृत्ति से भाषा के प्रवाह में रुकावट उत्पन्न हो रही है। यदि इसे इस प्रकार लिखें तो- डॉविक्रम साराभाई बहुमुखी प्रतिभा के धनी थे वे उच्च कोटि के वैज्ञानिक और कुशल प्रशासक थे उन्होंने प्रौद्योगिकी और शिक्षा के क्षेत्र में भी महत्वपूर्ण कार्य किए।

            इस बार हमने डॉविक्रम साराभाई के नाम की आवृत्ति से बचने के लिए उनके नाम के स्थान पर 'वे' और 'उन्होंने' शब्दों का प्रयोग किया है और इससे अटपटापन दूर हो गया तथा प्रवाहमयता भी बनी रही।

             डॉविक्रम साराभाई संज्ञा शब्द है और उसके स्थान पर 'वे' और 'उन्होंने' शब्दों का प्रयोग किया गया है। यह शब्द 'सर्वनाम' कहलाते हैं। 'सर्वनाम' शब्द और अक्षरों के मेल से बना है - सर्व + नाम।

             सर्व : जिसका अर्थ 'सब' होता है।

             नाम : कोई भी 'नाम' या किसी भी 'नाम' का उच्चारण होता है।

     

    सर्वनाम की परिभाषा | Sarvanam ki Paribhasha 

    जो शब्द संज्ञा के स्थान पर प्रयुक्त किए जाते हैं, वे सर्वनाम कहलाते हैं। ( जिन शब्दों को संज्ञा के स्थान पर इस्तेमाल किया जाता है, इसे सर्वनाम कहते हैं।)

    जैसे : मैं, हम, तुम, तू, आप, यह, ये, इन्होंने, वह, वे, उन्होंने, जो, सो आदि।

     

    सर्वनाम के भेद | Sarvanam ke bhed

    सर्वनाम के निम्नलिखित छह भेद हैं :

    . पुरुषवाचक सर्वनाम (Purushavaachak Sarvanam)

    . निजवाचक सर्वनाम (Nijavaachak Sarvanam)

    . निश्चयवाचक सर्वनाम (Nishchayavaachak Sarvanam)

    अनिश्चयवाचक सर्वनाम (Anishchayavaachak Sarvanam)

    . संबंधवाचक सर्वनाम (Sambandhavaachak Sarvanam)

    . प्रश्नवाचक सर्वनाम (Prashnavaachak Sarvanam)

     

    . पुरुषवाचक सर्वनाम 

    पुरुषवाचक सर्वनाम के तीन भेद किए जाते हैं -

    . उत्तम पुरुष ( मैं, हम)

    . मध्यम पुरुष (तू, तुम, आप)

    . अन्य पुरुष (वह, वे, यह, ये)

    . उत्तम पुरुष सर्वनाम

    वक्ता (बोलने वाला) जिन सर्वनामों का प्रयोग अपने लिए करता है, उन्हें 'उत्तम पुरुषवाचक सर्वनाम' कहते हैं। जैसे : मैं, हम, मेरा, हमारा, हमें आदि।

    मेरा काम हो गया।            हमारा काम हो गया।

    मैं विद्यालय जाऊँगी।         हम दिल्ली जाएँगे।

     

    . मध्यम पुरुष सर्वनाम

    वक्ता द्वारा जो सर्वनाम श्रोता के लिए प्रयुक्त किए जाते हैं, उन्हें 'मध्यम पुरुषवाचक सर्वनाम' कहते हैं

    जैसे : तू, तेरा, तुम, तुम्हारा, आपका आदि

    तुम कहाँ गए थे ?            तुम्हारा भाई आया था।

    आप गए।                 तू मोहन के साथ चला जा।

     

    . अन्य पुरुष सर्वनाम

    जिन सर्वनाम शब्दों का प्रयोग लिखने या बोलने वाले किसी अन्य व्यक्ति के लिए करता है, उन्हें 'अन्य पुरुषवाचक सर्वनाम' कहते हैं।

    जैसे : वह, वे, उसने, उसे, उन्हें, उन्होंने आदि।

    उसकी माता जी आई हैं। 

    वह विद्यालय देर से पहुँचा।

    उसे पत्र भेज दीजिए।

    उन्होंने खाना खा लिया।

     

    . निजवाचक सर्वनाम 

    जिन सर्वनामों का प्रयोग वाक्य के करता के साथ अपनापन बतलाने के लिए किया जाता है, उन्हें 'निजवाचक सर्वनाम' कहते हैं।

    जैसे:

    • वह अपने आप ही चला जाएगा
    • यह कार्य में स्वयं कर लूँगा
    • उसने अपना रास्ता खुद चुना है।

           'आप' शब्द का प्रयोग पुरुषवाचक सर्वनाम (आदरसूचक) एवं निजवाचक सर्वनाम दोनों रूपों में होता है

    जैसे :

    आप कहां जा रहे हैं ? (पुरुषवाचक)

    वह आप ही जाएगा (निजवाचक)

     

    . निश्चयवाचक सर्वनाम

    ऐसे सर्वनाम शब्द जो किसी निश्चित वस्तु या व्यक्ति के लिए प्रयोग में लाए जाएँ या उनकी ओर संकेत करें, उन्हें 'निश्चयवाचक सर्वनाम' कहते हैं।

    जैसे :

    यह मेरी पुस्तक है।

    यह तुम्हारी फुटबॉल है।

    यह तो गीता है।

    वह शाम का विद्यालय है।

     

    अनिश्चयवाचक सर्वनाम 

    जो सर्वनाम शब्द किसी निश्चित व्यक्ति या वस्तु की ओर संकेत करें, उसे अनिश्चयवाचक सर्वनाम कहते हैं।

    जैसे :

    किसी ने शीशा तोड़ दिया।

    दूध में कुछ पढ़ा है।

    राम से कोई मिलने आया है।

    भिखारी को कुछ दे दो।

     

    . संबंधवाचक सर्वनाम

    ऐसे सर्वनाम शब्द जो वाक्य के दूसरे सर्वनाम शब्द से संबंध बताएँवे 'संबंधवाचक सर्वनाम' कहलाते हैं।

    जैसे :

    जो परिश्रम करेगा, वह सफल होगा।

    जैसा करोगे, वैसा भरोगे।

    जो पढ़ेगा, वह पास होगा।

     

    . प्रश्नवाचक सर्वनाम 

    ऐसे सर्वनाम शब्द जो प्रश्न पूछने के काम आते हैं, उन्हें 'प्रश्नवाचक सर्वनाम' कहते हैं।

    जैसे : कुर्सी पर कौन बैठा है?

    घर में कौन आया है ?

    तुमने आज क्या पढ़ा है?

    क्या फुटबॉल खेलने चलोगे?

     

    'कौन' का प्रयोग किसी प्राणी के लिए किया जाता है और 'क्या' का प्रयोग किसी वस्तु के लिए।

     

    सर्वनामों के रूप के परिवर्तन

               कारक के साथ सर्वनाम के रूप परिवर्तित हो जाते हैं। यह परिवर्तन लिंग और वचन के कारण होता है। सर्वनाम के रूप परिवर्तन संज्ञा की भाँति होते हैं। दोनों में कुछ अंतर है। सर्वनाम में केवल सात कारक होते हैं इसमें संबोधन कारक नहीं होता है सर्वनाम शब्द स्त्रीलिंग और पुल्लिंग दोनों में एक समान होते हैं।

     

    1. पुरुषवाचक, उत्तम पुरुष 'मैं' शब्द -

    कारक              एकवचन            बहुवचन

    कर्ता                 मैं, मैंने               हम, हमने

    कर्म                 मुझे                    हमें

    करण               मुझसे, मेरे द्वारा     हमसे, हमारे द्वारा संप्रदान             मुझे, मेरे लिए        हमें, हमारे लिए अपादान            मुझसे                 हमसे

    संबंध               मेरा, मेरी, मेरे       हमारा हमारी हमारे अधिकरण         मुझपर, मुझमें      हमपर, हममें

     

    2. पुरुषवाचक, मध्यम पुरुष 'तू' शब्द

    कर्ता              तू,तूने               तुम, तुमने

    कर्म               तुझे                 तुम्हें

    करण             तुझसे, तेरे द्वारा   तुमसे, तुम्हारे द्वारा संप्रदान          तुझे, तेरे लिए      तुम्हें, तुम्हारे लिए अपादान         तुझसे               तुमसे

    संबंध            तेरा, तेरी, तेरे      तुम्हारा,तुम्हारी, तुम्हारे अधिकरण      तुझमें, तुझपर     तुममें, तुमपर

     

    3. पुरुषवाचक अन्य पुरुष 'वह' शब्द

    कर्ता           वह, उसने               वे, उन्होंने

    कर्म            उसे, उसको            उन्हें, उनको

    करण          उससे, उसके द्वारा    उनसे, उनके द्वारा संप्रदान        उसे, उसके लिए      उन्हें, उनके लिए अपादान       उससे                  उनसे

    संबंध       उसका, उसकी, उसके   उनका उनकी उनके अधिकरण   उसपर, उसमें            उनपर, उनमें

     

    4. निश्चयवाचक सर्वनाम 'यह' शब्द

    कर्ता        यह, इसने                   ये, इन्होंने

    कर्म         इसे, इसको                 इन्हें

    करण       इससे, इसके द्वारा        इनसे, इनके द्वारा

    संप्रदान     इसको, इसके लिए       इन्हें, इनके लिए अपादान    इससे                        इनसे

    संबंध        इसका, इसकी, इसके   इनका इनकी इनके अधिकरण   इसमें, इसपर            इनमें, इनपर

     

    5. अनिश्चयवाचक सर्वनाम 'कोई' शब्द

    कर्ता- कोई, किसी ने - किन्ही ने

    कर्म- किसी को - किन्ही को 

    करण - किसी से, किसी के द्वारा-किन्ही से, किन्ही के द्वारा

    संप्रदान - किसी को, किसी के लिए - किन्ही को, किन्ही के लिए   

    अपादान - किसी से - किन्ही से

    संबंध  -  किसी का, किसी के, किसी की - किन्ही का, किन्ही के, किन्ही की   

    अधिकरण - किसी में, किसी पर - किन्हीं में, किन्ही पर

     

    6. प्रश्नवाचक सर्वनाम 'कौन' शब्द

    कर्ता - कौन, किसने - कौन, किन्होंने

    कर्म - किसे, किसकोकिन्हें, किनको

    करण - किससे, किसके द्वारा - किनसे, किनके द्वारा

    संप्रदान - किसको, किसके लिए - किनको - किनके लिए

    अपादान - किससे - किनसे

    संबंध - किसका, किसकी, किसके - किनका, किनके, किनके

    अधिकरण - किसमें, किसपरकिनमें किनपर

     

    7. संबंधवाचक सर्वनाम 'जो' शब्द

    कर्ता - जो, जिसने - जो, जिन्होंने

    कर्म - जिसे, जिसको - जिन्हें, जिनको

    करणजिससे, जिसके द्वारा - जिनसे, जिनके द्वारा

    संप्रदान - जिसके लिए, जिसको - जिनके लिए, जिनको

    अपादान - जिससे - जिनसे

    संबंध - जिसका, जिसकी, जिसके - जिनका, जिनकी, जिनके

    अधिकरण - जिसमें, जिसपर - जिनमें, जिनपर

     

    सर्वनाम पर आधारित प्रश्नों के उत्तर दो -

    . सर्वनाम के कितने भेद होते हैं?

    . शीशा किसने तोड़ा है? इस वाक्य में कौनसा सर्वनाम का प्रकार है?

    . निश्चित व्यक्ति और वस्तु की पहचान कौन से सर्वनाम के प्रकार से होती है?

    . जैसा नाम वैसा काम इस वाक्य में कौन सा सर्वनाम का प्रकार है?

     

    ) रिक्त स्थानों की पूर्ति सर्वनाम शब्द का उचित रूप द्वारा कीजिए।

    . यह ………...घर है।          (मैं)

    . विश्वास नहीं हो रहा तो ………...तुम पढ़ लो।

    (यह, एकवचन)

    . ……….लाठी, उसकी भैंस (जो)

    . ………..दरवाजा खटखटा रहा है (कौन)

    . ………. सितार लाओ (मैं)

    . अध्यापिका……….. पढ़ा रही है (कौन, एकवचन)

    . ………….. दया कीजिए।   (मैं)

     

    उत्तर -

    )

    . छह

    . प्रश्नवाचक

    . निश्चयवाचक

    . संबंधवाचक

     

    )

    . मेरा

    . इसे

    . जिसकी

    . कोई

    . मेरा

    . किसे

    . मुझपर

     

    #Sarvanam in Hindi, #Sarvanam ki Paribhasha, #Sarvanam ke bhed, #Sarvanam Definition in Hindi, #Sarvanam ke Prakar. #Sarvanam kise kehte hain? #Sarvanam in Hindi Vyakaran, #sarvanam kise kahate hain, #sarvanam ki paribhasha udaharan sahit, #sarvanam examples in Hindi

    Please Share . . .

    Related Links -
    पढ़ें: टॉपर्स नोट्स / स्टडी मटेरियल-

    0 Comments:

    Post a Comment